सरकार के दावे हो रहे फेल, यूरिया की कालाबाजारी से मचा हाहाकार

Share this Post

औरंगाबाद– यूरिया की किल्लत और कालाबाजरी की वजह से किसानों की परेशानी आये दिन बढ़ती ही जा रही है। इसी बिच आज औरंगाबाद के रफीगंज में कृषि विभाग के कर्मचारियों की मिलीभगत से यूरिया की कालाबाजारी की जा रही है। बीती रात उर्वरक कालाबाजारी का मामला प्रकाश में आया है।

किसानों ने बीती रात 10 बजें रफीगंज के ओम शांति खाद्य भंडार के विक्रेता राजू कुमार एवं शंकर खाध भंडार के विक्रेता रंजन कुमार को यूरिया की कलाबजारी करते किसानों ने रंगे हाथ पकड़ लिया है। जहां यूरिया 350 रुपये प्रत्येक बोरा बेचा जा रहा था। जिसकों लेकर किसानों ने रात्रि में ही जमकर बवाल किया है। जिसके कारण आसपास के कइ लोग एकत्रित हो गये।

Advertisements

इसी दौरान जाप के प्रदेश सचिव सन्दीप सिंह समदर्शी ने पहुचकर लोगो को शांत कराया और बताया कि इन दिनों उर्वरक विक्रेता के द्वारा बड़े पैमाने पर कालाबजारी किया जा रहा है। जबकि, सरकार द्वारा निर्धारित मूल्य पर उर्वरक की उपलब्धता व आपूर्ति सुनिश्चित कराया जाना चाहिए था। लेकिन रफीगंज के दो खाध भंडार के मालिक जो अपने सगे भाई हैम, दोनों विक्रेता की शिकायत हमेशा स्थानीय लोगो के द्वारा पदाधिकारियों को दिया गया हैं, फिर भी करवाई शून्य है। जिसको लेकर किसानों ने जिला पदाधिकारी एवं जिला कृषि पदादिकारी से कालाबाजारी करने वाले उर्वरक विक्रेता के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का मांग की है।

Advertisements


Share this Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *