MINOR GIRL PROSTITUTION UNDER IPC SECTION 372

नाबालिक वेश्यावृत्ति – IPC SECTION 372

Share this Post

भारत में वेश्यावृत्ति सबसे पुराना पेशा है। यह गलत धारणा है कि भारत में वेश्यावृत्ति अवैध है, बल्कि वेश्यावृत्ति कानूनी है लेकिन वेश्यालय को दलाली देना, उसका मालिक होना और उसका प्रबंधन करना अवैध है। मुंबई, दिल्ली और कोलकाता भारत के प्रमुख शहर हैं जहां बड़ी संख्या में वेश्यालय अवैध रूप से चलाई जा रही है। वेश्यावृत्ति अपने आप में न तो अवैध है और न ही IPC के अंतरगत दंडनीय है। वेश्यावृत्ति जबरन तब कहलाता है जब किसी कारण छोटे बच्चों को वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर किया जाता है। IPC, 1860 वेश्यावृत्ति के उद्देश्य से नाबालिगों को बेचना और खरीदना को दण्डनीय अपराध मानती है। संहिता की धारा 372 वेश्यावृत्ति के उद्देश्य से नाबालिग को बेचने वाले व्यक्ति के लिए कम से कम दस साल के कारावास का प्रावधान करती है।

भारतीय संविधान देता है महिलाओं को सुरक्षा का वादा ! जाने कैसे ?

IPC SECTION 372:

जो कोई भी 18 वर्ष से कम आयु के किसी भी व्यक्ति को इस इरादे से बेचता है, किराए पर देता है, या उसका निपटान करता है किसी ऐसे व्यक्ति को जो उस नाबालिक का उपयोग वेश्यावृत्ति या अवैध संभोग के उद्देश्य से उपयोग किया जायेगा, या ये जानकर की उस नाबालिका का उपयोग किसी भी किसी भी गैरकानूनी और अनैतिक उद्देश्य के लिए, या यह जानते हुए कि ऐसे व्यक्ति को किसी भी उम्र में ऐसे किसी काम पर लगाया जायेगा या नियोजित किया जाएगा या किसी ऐसे उद्देश्य के लिए इस्तेमाल किया जाएगा, वैसे व्यक्ति को किसी भी तरह के कारावास से दंडित किया जाएगा जिसकी अवधि दस साल तक हो सकती है, और जुर्माने के लिए भी उत्तरदायी होगा।

Advertisements

संछेप:

  • IPC 372 के तहत किस अपराध को परिभाषित किया गया है?
    • IPC 372 अपराध: वेश्यावृत्ति आदि के लिए नाबालिग को किराए पर देना या बेचना।
  • IPC 372 केस में क्या सजा है?
    • IPC 372 की सजा 10 साल + जुर्माना है।
  • IPC 372 संज्ञेय अपराध है या असंज्ञेय अपराध?
    • IPC 372 एक संज्ञेय अपराध है।
  • IPC 372 जमानती या गैर जमानती अपराध है?
    • IPC 372 गैर जमानती अपराध है।
  • IPC 372 पर किस अदालत में मुकदमा चलाया जा सकता है?
    • IPC 372 का ट्रायल कोर्ट ऑफ सेशन में चलता है।

दहेज प्रथा से प्रतारित महिलाओं को क़ानून देती है सुरक्षा! IPC की धारा 304 B में क्या है प्रावधान…….

– Snehil Narayan

Advertisements


Share this Post

One Reply to “नाबालिक वेश्यावृत्ति – IPC SECTION 372”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *