RAPE UNDER SECTION 376 B | CVN NEWS

तलाकशुदा पत्नी से जबरदस्ती संभोग करना भी है अपराध। इसके लिए कानून में है यह प्रावधान !

Share this Post

हर एक इंसान को बिना किसी नुकसान के सम्मानजनक जीवन जीने का अधिकार है। INDIAN PENAL CODE SECTION 376 B बताती है कि कैसे एक अलग या तलाकशुदा महिला को अपनी शादी का बंधन तोड़ने के साथ सभी वैवाहिक अधिकारों को त्यागने का अधिकार है। महिलाओं की गरिमा की रक्षा करना और उनके मौलिक अधिकारों के साथ न्याय करना यह उनका स्वतंत्रिकनिर्णय है| यह धारा एक महिला को अपने ही पति को दंडित करने का प्रावधान करती है|

IPC SECTION 376 B:

इंडियन पीनल कोड की धारा 376 B के अनुसार, जब कोई पति पत्नी अलग (तलाकशुदा) हो चुके है या अलग होने की डिक्री पर है और इस बीच वो पति अपनी पत्नी के साथ किसी भी तरीके की प्रथा के तहत या जबरदस्ती शारीरिक सम्बन्ध बनाने की कोशिश करता है, ऐसे में वो व्यक्ति 2 से 7 साल तक का कारावास एवं जुर्माने के लिए भी उत्तरदायी होगा|

IPC Section 376 की अनिवार्यताएं:

  • ऐसा संभोग पत्नी की सहमति के बिना होना चाहिए।
  • ऐसी घटनाएं केवल अलगाव की अवधि के दौरान ही होनी चाहिए।
  • इस भाग को तभी बुलाया जाएगा जब पति या पत्नी स्वतंत्र रूप से रह रहे हों या उनके पास न्यायिक विभाजन की घोषणा हो।
  • सबसे महत्वपूर्ण घटक यह है कि यह कार्य एक पुरुष द्वारा अपने स्वयं के पति या पत्नी के साथ किया जाना चाहिए, जिसके साथ वह विवाहित था और बाद में अलग या अलग हो गया था। किसी अन्य व्यक्ति के जीवनसाथी के साथ सेक्स इस धारा के अंतर्गत नहीं आता है। यह खंड विशेष रूप से एक जोड़े के लिए है जो अलग हो गए हैं।

महत्वपूर्ण निर्णय :


चंद मोहन सम्मादर बनाम पश्चिम बंगाल राज्य (2011) – सुप्रीम कोर्ट द्वारा यह गौर किया गया की सम्भोग के लिए सहमति का होना अनिवार्य है| यदि पति द्वारा लिया गया सहमति IPC की धारा 375 एवं 376 B के अंतर्गत गैर – कानूनी हुआ तब वह RAPE (बलात्कार) कहलायेगा | पर इस मामले में ऐसा कही भी प्रतीत नहीं होता है की सम्भोग के लिए महिला को किसी भी प्रकार से डराया धमकाया गया हो या उसके किसी करीबी को मृत्यु का डर देकर उसके साथ ऐसा कार्य किया गया हो| अतः यह कहा जा सकता है की इस मामले में सम्भोग के लिए महिला की पूर्ण रूप से सहमति थी|

Advertisements

जरूर पढ़े –

– Snehil Narayan

Advertisements


Share this Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *