Kalash on the chest | cvn news

सीने पर कलश रख हो रहा मां भगवती का अनुष्ठान !

Share this Post

मोतिहारी – शारदीय नवरात्र में लोग अलग अलग तरीके से माता का अनुष्ठान करते है. कोई नौ दिन उपवास रखना पसंद करते है तो कोई कल पहली और आखरी यानि अष्ठमी के दिन उपवास रखकर माता की पूजा करते है. लेकिन कई लोग ऐसे भी है जो जो अपने सीने पर कलश रखकर माता की भक्ति में खोये रहते है. ऐसी ही अनोखी अनुष्ठान मोतिहारी जिले के सिंचाई विभाग में पदस्थापित उमाशंकर कर रहे है. वो अपने सीने पर कलश रखकर मां भगवती का अनुष्ठान कर रहे है. उमाशंकर पिछले आठ सालों से अन्न जल त्याग कर माता की उपासना करते आ रहे है.

जल अन्न त्याग कर करते है अनुष्ठान

मोतिहारी के उमाशंकर पिछले आठ सालों से सीने पर कलश रखकर अनुष्ठान करते है। इस दौरान वो जल अन्न त्याग कर माता का अनुष्ठान करते है. उमाशंककर अपने आवास पर ही पूजा करते है. लोगों को मिली जानकारी के बाद कई लोग वहां पूजा करने भी आ रहे है।

खबर सुनने के बाद लोग आ रहे पूजा करने

Advertisements

जिस जिस तरह से भगवानं के भक्त अलग अलग तरह के होते है, ठीक उसी तरह उनकी भक्ति करने का तरीका भी होता है. ऐसे ही मां भगवती के अनोखा अनुष्ठान कर रहे मोतिहारी जिले के संग्रामपुर प्रखंड के प्रताप मठिया निवासी उमाशंकर सिंह अपने सीने पर कलश रखकर आराधना कर रहगे है. उमाशंकर मोतिहारी में ही सिंचाई विभाग में नौकरी करते है. भक्त सिंह शहर के बैंक रोड भवानी जिरात स्थित एक शोरूम के ऊपर अपने आवास पर अनुष्ठान कर रहे है. वहीं उनकी सीने पर कलश रखकर अनुष्ठान करने की खबर जानने के बाद श्रद्धालु उनके घर पूजा करने के लिए आ रहे है.

विशेष रखा जाएगा ध्यान

बता दूँ की शारदीय नवरात गुरुवाए से शुरू हो गया है. जिसके बाद कई श्रद्धालु अपने अपने तरीके से अनुष्ठान में लगे हुए है. वहीँ इस बार श्रद्धालुओं ने सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए माता की पूजा शुरू की है. सरकार के नए नियमों का ख्याल भी दुर्गा पूजा में रखा जा रहा है. पंडालों में भी भीड़ कम उमड़े उसका भी ख्याल रखने की तैयारी है.

धनंजय कुमार की रिपोर्ट

Advertisements


Share this Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *