IPC SECTION 306| CVN NEWS

विवाहिता द्वारा आत्महत्या और उसके परिणाम – IPC की धारा 306 के अंतरगत

यदि कोई व्यक्ति आत्महत्या करता है, तो जो भी ऐसी आत्महत्या करने के लिए उकसाता है, उसे किसी एक अवधि के लिए कारावास की सजा दी जाएगी…….

View More विवाहिता द्वारा आत्महत्या और उसके परिणाम – IPC की धारा 306 के अंतरगत

दहेज प्रथा से प्रतारित महिलाओं को क़ानून देती है सुरक्षा! IPC की धारा 304 B में क्या है प्रावधान…….

दहेज प्रथा जैसी सामाजिक बुराइयाँ भारतीय समाज के लिए अभिशाप हैं। किसी भी रूप में दहेज लेने या देने पर रोक हैं।

View More दहेज प्रथा से प्रतारित महिलाओं को क़ानून देती है सुरक्षा! IPC की धारा 304 B में क्या है प्रावधान…….

गर्भपात कारित करने के इरादे से या गैर इरादे से किए गए अधिनियम के कारण मृत्यु – IPC धारा 314

IPC की धारा 314 के अनुसार, महिला का गर्भपात करने के इरादे से एक अधिनियम किया गया था, क्या कोई भी कार्य जिसके परिणामस्वरूप ऐसी महिला की मृत्यु हो जाती है, किसी एक अवधि के लिए कारावास से दंडनीय होगा जो कि 10 साल तक हो सकता है, और जुर्माने के लिए भी उत्तरदायी होगा

View More गर्भपात कारित करने के इरादे से या गैर इरादे से किए गए अधिनियम के कारण मृत्यु – IPC धारा 314

आख़िर गर्भपात क्यों है गैरकानूनी ? जानिए IPC की धरा 312 के तहत ………

एक महिला का गर्भपात कराना अजन्मे बच्चों के खिलाफ एक बहुत ही गंभीर अपराध है, लेकिन दूसरी ओर, एक महिला का भी उनके शरीर पर अधिकार होता है। इसलिए, अजन्मे बच्चे के जीवन के अधिकार और एक महिला द्वारा गर्भपात के अधिकार के बीच बहुत सारी जटिलताएँ शामिल हैं।

View More आख़िर गर्भपात क्यों है गैरकानूनी ? जानिए IPC की धरा 312 के तहत ………

भारतीय संविधान देता है महिलाओं को सुरक्षा का वादा !

महिलायें जाने अपना अधिकार हमारे संविधान और भूमि का कानून पर्याप्त सुरक्षा देता है और महिलाओं के हितों की रक्षा करता है, लेकिन इसका कारण…

View More भारतीय संविधान देता है महिलाओं को सुरक्षा का वादा !